Protestors Set PMs House On Fire

Violence erupts in sri lanka: श्रीलंका में भड़की हिंसा, प्रदर्शनकारियों ने पूर्व प्रधानमंत्री के घर में लगाई आग, पढ़ें पूरी खबर

Violence erupts in sri lanka: प्रदर्शनकारियों ने पीएम समेत पांच से अधिक मंत्रियों के घर फूंक दिए

नई दिल्ली, 10 मईः Violence erupts in sri lanka: श्रीलंका में प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद से भारी हिंसा भड़क उठी है। इसमें सत्ता पक्ष के सांसद अमरकीर्ति अथुकोराला ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी और इसके बाद फिर खुद को भी गोली मार ली। यहां प्रदर्शनकारियों ने पीएम समेत पांच से अधिक मंत्रियों के घर फूंक दिए।

वहीं कई शहरों में हिंसा भड़क उठी, जिनमें एक सांसद समेत पांच लोगों की मौत हो गई। अब पूरे देश में कर्फ्यू लगा दिया गया है, साथ ही कोलंबो में सेना उतारी गई है। हालिया सप्ताहों की इस हिंसा में पांच लोगों की मौत हो गई है और 200 से अधिक ज्यादा लोग घायल भी हुए हैं। पूरे श्रीलंका में बुधवार तक कर्फ्यू लगा दिया गया है, इसके बावजूद तनाव कायम है, क्योंकि भारी आर्थिक संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। पूरा देश आर्थिक व राजनीतिक संकट में फंस गया है।

विपक्ष का आरोप है कि देश का सबसे शक्तिशाली राजनीतिक परिवार इस संकट का जिम्मेदार है। श्रीलंका में संकट से राजपक्षे परिवार की छवि बुरी तरह धूमिल हुई है। पीएम के अलावा उनके भाई राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे के भी इस्तीफे की मांग उठ रही है। भीड़ ने प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे, मंत्री सनत निशांत, शिक्षामंत्री रमेश पथिराना, मंत्री थिसा कुटियाराची, पूर्व मंत्री जॉन्सटन फर्नांडो और सांसद महिपाल हेराथ के घरों में आग लगा दी। परिवारों को बमुश्किल बचाया गया।

Advertisement

क्या आपने यह पढ़ा…… Cyclone asani update: असानी तूफान की वजह से इन राज्यों में होगी भारी बारिश, जानिए कहां-कहां दिखेगा असर

Violence erupts in sri lanka: मतारा में मंत्री कंचना विजेसेकेरा के घर भी प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की है। वहीं सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने श्रीलंका के मोरातुवा मेयर समन लाल फर्नांडो और सांसदों सनथ निशांत, महिपाल हेराथ, थिसा कुट्टियाराची, रमेश पथिराना और निमल लांजा के आधिकारिक आवासों को भी आग के हवाले कर दिया।

Violence erupts in sri lanka: बता दें कि सोमवार को हुई जबर्दस्त हिंसा के बाद से पूरे देश में कर्फ्यू लगा दिया गया है, आपातकाल पहले ही लगाया जा चुका है। राजधानी कोलंबो में हिंसा पर काबू करने के लिए सेना को तैनात किया गया है।

Advertisement
Hindi banner 02
देश की आवाज़ की तमाम खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें.

Copyright © 2022 Desh Ki Aawaz. All rights reserved.