Kanpur violence

Kanpur violence update: कानपुर हिंसा में मोबाइल टावरों का डाटा खंगालने पर हुआ चौंकाने वाला खुलासा, जानें…

Kanpur violence update: कानपुर हिंसा का पाकिस्तान से हैं कनेक्शन…! बवाल के दौरान एक फोन नंबर से लगातार पाकिस्तान में चल रही थी बातचीत

लखनऊ, 23 जूनः Kanpur violence update: उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए बवाल को लेकर आये-दिन नये खुलासे हो रहे हैं। इसी कड़ी अब इस बवाल का कनेक्शन पाकिस्तान में बैठे आकाओं से जुड़ा बताया जा रहा हैं। दरअसल बवाल के दौरान एक फोन नंबर द्वारा लगातार पाकिस्तान में बातचीत चल रही थी। वह नंबर हिस्ट्रीशीटर अतीक खिचड़ी का था। अतीक बवाल के बाद से फरार हैं। एसआईटी को उसका कनेक्शन बाबा बिरयानी के मालिक मुख्तार बाबा से भी मिल रहा हैं।

जानकारी के अनुसार एसआईटी की जांच में अब तक दो बिंद सामने आए हैं। पहला, उपद्रव की साजिश नूपुर शर्मा की टिप्पणी को लेकर भारत की विश्व पटल पर बदनामी कराने को रची गई थी। दूसरा, उपद्रव के पीछे स्थानीय कारण हिंदुओं की बस्ती चंद्रेश्वर हाता खाली कराना था। 19 दिनों बाद पुलिस ने जांच की दिशा बदल दी हैं। उपद्रव के बाद पुलिस नई सड़क के मोबाइल टावरों का डाटा खंगाल रही थी, उसमें सामने आया कि एक मोबाइल नंबर से उस वक्त पड़ोसी देश पाकिस्तान से बात चल रही थी। उसके बाद से यह नंबर लगातार बंद आ रहा हैं।

क्या आपने यह पढ़ा…. FIR against uddhav thackeray: नई मुसीबत में फंसे महाराष्ट्र के सीएम…! दर्ज हुई एफआईआर; जानें पूरा मामला

Advertisement

वहीं पुलिस को चैंटिंग का एक स्क्रीन शॉट भी मिला हैं। बताया जा रहा है कि यह चैट अतीक का हैं, जिसमें वह उसी पाकिस्तानी नंबर से चैटिंग कर रहा हैं। चैट में लिखा है कि शेख साहब और बम चाहिए। काम हो जाएगा। अब चैट का स्क्रीन शॉटअतीका का है या नहीं इसकी जांच की जा रही हैं। पुलिस ने अब तक इस उपद्रव में 58 लोगों को गिरफ्तार किया हैं। जांच के दौरान 4 युवकों को पुलिस ने क्लीनचिट दी हैं।

Kanpur violence update: घटना के बाद पुलिस ने वीडियो, फोटो के आधार पर 40 उपद्रवियों के पोस्टर जगह-जगह पर लगाए थे। कई युवकों को पुलिस ने घटना के वक्त भी दबोचा था। गिरफ्तारी के बाद कई परिवारों ने पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा से मिलकर आरोपियों को बेगुनाह बताया था।

Hindi banner 02
देश की आवाज़ की तमाम खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें.

Advertisement
Copyright © 2022 Desh Ki Aawaz. All rights reserved.