High court

Tamil nadu shiv ganga murder case: तमिलनाडु के शिवगंगा हत्याकांड मामले में 27 दोषियों को उम्रकैद की सजा, जानें क्या है पूरा मामला

Tamil nadu shiv ganga murder case: शिवगंगा में तीन दलितों की हत्या मामले में कोर्ट ने 27 आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई

नई दिल्ली, 06 अगस्तः Tamil nadu shiv ganga murder case: तमिलनाडु के शिवगंगा जिले में साल 2018 में तीन दलितों की हत्या हुई थी। इसी मामले में आज विशेष अदालत ने 27 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई हैं। मामले में क्षेत्र के एक प्रभावशाली समुदाय के चार किशोरों सहित कुल 33 लोगों को आरोपी बनाया गया था।

जानकारी के अनुसार 28 मई, 2018 को दबंग समुदाय की भीड़ ने कचनाथम में मंदिर से जुड़े एक विवाद के बाद दलित परिवारों पर घातक हथियारों से हमला कर दिया। अनुसूचित जाति के तीन सदस्यों की हत्या कर दी गई और कई गंभीर रूप से घायल हो गए, जब एक प्रमुख समुदाय के लोगों के एक समूह ने 28 मई की रात करीब साढ़े नौ बजे अनुसूचित जाति के घरों में घुसकर उन पर अंधाधुंध हमला किया था। हमले से पहले उन घरों की बिजली की आपूर्ति भी काट दी गई थी।

इस हमले में मारे गए लोगों में के. अरुमुगम, ए. षणमुगनाथन और वी. चंद्रशेखर शामिल थे। शिवगंगा में SC/ST (POA) अधिनियम के तहत मामलों की विशेष सुनवाई करने वाली अदालत ने सजा सुनाई.।अदालत के न्यायाधीश मुथुकुमारन ने 1 अगस्त को इस हत्याकांड में 27 आरोपियों को दोषी ठहराया था।

Advertisement

क्या था पूरा मामला?

बता दें कि 26 मई 2018 को 2 दलित पुरुषों द्वारा शिवगंगा के कचथानम गांव में करुपन्नास्वामी मंदिर उत्सव के दौरान उच्च जाति के एक 19 वर्षीय युवक को सम्मान नहीं देने के बाद यह घटना हुई थी। युवक सुमन ने अपने भाई अरुण और समुदाय के अन्य सदस्यों के साथ 28 मई को दलित बस्तियों पर हमला किया और के. अरुमुगम, ए. षणमुगनाथन की हत्या कर दी। हमले में घायल एक अन्य दलित व्यक्ति, वी. चंद्रशेखर का 2 दिन बाद अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया था।

क्या आपने यह पढ़ा…. Manipur assembly: मणिपुर विधानसभा में नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर लागू करने का विधेयक पेश, पढ़ें…

Advertisement
Hindi banner 02
देश की आवाज़ की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Copyright © 2022 Desh Ki Aawaz. All rights reserved.