AAP

Ishudan gadhvi statement: आप में कई आएंगे और जाएंगे लेकिन हमारी लड़ाई जारी रहेगीः ईशुदान गढ़वी

Ishudan gadhvi statement: भाजपा नेताओं पर दबाव डालने की नीति अपनाती हैः ईशुदान गढ़वी

अहमदाबाद, 18 जनवरीः Ishudan gadhvi statement: आम आदमी पार्टी के कलाकार विजय सुवाला और सूरत के व्यवसायी महेश सवानी के इस्तीफे के बाद, ईशुदान गढ़वी ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा (Ishudan gadhvi statement) कि भाजपा और पाटिल भाऊ की सरकार ने हमें जेल में डाल दिया। मुझ (Ishudan gadhvi statement) पर शराब पीने का आरोप लगाया। 12 दिन बाद सूचना दी। हमारी लड़ाई व्यवस्था परिवर्तन के लिए है। हम आम आदमी पार्टी छोड़ने वाले दोनों नेताओं को बधाई देते हैं।

भाजपा नेताओं पर दबाव डालने की नीति अपनाती है। अतीत में बीजेपी ने हमारे पार्षदों को तोड़ने की कोशिश की थी। हम दोनों नेताओं को धन्यवाद देते हैं। बीजेपी के लोगों को बताना है कि बीजेपी ने 6000 स्कूल बंद कर दिए हैं। भर्ती कांड में असित वोरा ने अभी तक इस्तीफा नहीं दिया है।

मैं अपने मोग़ल मां की कसम खाता हूँ, मैं अपनी आत्मा की कसम खाता हूँ कि मैंने शराब नहीं पी। फिर भी तुमने मुझे बदनाम किया। मेरा दिल भर आया है, बीजेपी डरी हुई है और इसकी वजह से हमें बदनाम करती है। यह हमारी पार्टी छोड़ने वाले दोनों नेताओं का निजी फैसला है। मैं स्पष्ट रूप से मानता हूं कि भाजपा ने निष्पक्षता, मूल्य, जुर्माना और भेदभाव की नीति अपनाई है। अब हम फिर लड़ेंगे और लड़ेंगे। इस प्रकार आम आदमी पार्टी क्रांतिकारी नायकों की पार्टी है। कई आएंगे और जाएंगे लेकिन हमारी लड़ाई जारी रहेगी।

Advertisement

क्या आपने यह पढ़ा…… Good news of corona virus: कोरोना को लेकर अच्छी खबर! अमेरिकी वैज्ञानिक ने किया यह बड़ा दावा

विजय सुवाला बीजेपी में शामिल हुए और महेश सवानी ने पार्टी छोड़ी

बता दें कि मशहूर कलाकार विजय सुवाला ने खुद को आम आदमी पार्टी से अलग कर दिया था। उन्होंने पार्टी से अलग होने का कारण बताते हुए कहा था कि वह एक कलाकार हैं और वह अपने कार्यक्रमों के लिए समय नहीं दे पाते हैं इसलिए पार्टी छोड़ रहे हैं। लेकिन अगले ही दिन वह भाजपा में शामिल हो गए और कहा कि वह अपने घर लौट आए हैं। वहीं कल शाम को आप के सूरत नेता और व्यवसायी महेश सवानी ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। महेश सवाणी ने कहा था कि वह राजनीति के व्यक्ति नहीं है बल्कि वे सेवा के व्यक्ति हैं इसलिए आप का साथ छोड़ रहे हैं।

Advertisement
Hindi banner 02
देश की आवाज़ की तमाम खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें.

Copyright © 2022 Desh Ki Aawaz. All rights reserved.