wheat

India bans exports of wheat: गेहूं की बढ़ती कीमतों के बीच मोदी सरकार का बड़ा फैसला, पढ़ें पूरी खबर

India bans exports of wheat: केंद्र सरकार ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाई रोक

नई दिल्ली, 14 मईः India bans exports of wheat: गेहूं की बढ़ती कीमत को देखते हुए मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया हैं। दरअसल सरकार ने गेहूं के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी हैं। हालांकि इसका निर्यात कुछ शर्तों के साथ जारी रहेगा। सरकार की ओर से इसका नोटिफिकेशन भी जारी किया गया हैं।

India bans exports of wheat: अधिसूचना में कहा गया है कि भारत, पड़ोसी देेशों और अन्य कमजोर देशों की खाद्य सुरक्षा खतरे में हैं। यह निर्णय इसलिए भी लिया गया है ताकि आज की वैश्विक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए भारत के नागरिकों के मूलभूत अधिकारों को सुरक्षित रखा जा सके। यानी आपकी थाली से रोटी गायब न हो इसके लिए सरकार ने विशेष इंतजाम किए हैं।

क्या आपने यह पढ़ा….. Policemen killed in MP: मध्यप्रदेश के इस जिले में पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या, आरोपी फरार

Advertisement

India bans exports of wheat: अधिसूचना में आगे कहा गया है कि भारत सरकार पड़ोसी और अन्य कमजोर विकासशील देशों की खाद्य सुरक्षा आवश्यकताओं को प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है, जो गेहूं के वैश्विक बाजार में अचानक बदलाव से प्रतिकूल रूप से प्रभावित हैं और पर्याप्त गेहूं की आपूर्ति तक पहुंचने में असमर्थ हैं।

बता दें कि रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से गेहूं की अंतरराष्ट्रीय कीमत में तकरीबन 40 प्रतिशत तेजी आई हैं। इससे भारत से इसका निर्यात बढ़ गया है। मांग बढ़ने से स्थानीय स्तर पर गेहूं और आटे की कीमत में भारी तेजी आई हैं। गेहूं की खरीद के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य 2,015 रुपये प्रति क्विंटल हैं। देश में गेहूं और आटे की खुदरा महंगाई अप्रैल में बढ़कर 9.59 प्रतिशत पहुंच गई जो मार्च में 7.77 प्रतिशत थी। इस साल गेहूं की सरकारी खरीद में 55 प्रतिशत गिरावट आई हैं।

Hindi banner 02
देश की आवाज़ की तमाम खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें.

Advertisement
Copyright © 2022 Desh Ki Aawaz. All rights reserved.