Dr Ram Shankar e1623745315837

National Rural Livelihood Mission: प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र मे मेहनती महिलाएं बन रही हैं लखपति

National Rural Livelihood Mission: स्वावलंबन की राह दिखाता स्वयं सहायता समूह- तीस हजार से अधिक महिलायें बनी लखपति

रिपोर्टः डॉ राम शंकर सिंह
वाराणसी, 12 फरवरीः
National Rural Livelihood Mission: प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी स्वयं सहायता समूह की महिलायें अपने मेहनत, लगन व सरकार के प्रयासों से लखपति बन रही हैं। समूह की महिलाओं को जिला प्रशासन व सरकार द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों से जोड़ा गया है, जिसके नतीजतन उनके आय में उत्तोरोत्तर वृद्धि हो रही है।

ग्रामीण क्षेत्रों में स्वयं सहायता समूह आधी आबादी के लिए वरदान साबित हो रहा हैं। उनके सपनों को साकार करने में मदद कर रहा है। समूह से जुड़कर जहाँ उन्हें निरंतर नयी-नयी जानकारी एवं प्रशिक्षण प्राप्त हो रहा है। फंड की व्यवस्था हो जा रही है वहीँ दूसरी तरफ गाँव में ही उन्हें रोजागर मिल रहा है।

विदित है कि लालकिले के प्राचीर से प्रधानमंत्री द्वारा पूरे देश में दो करोड़ महिलाओं को लखपति बनाये जाने की घोषणा की गयी थी। इस कार्यक्रम की सफलता को देखते हुए वित्तमंत्री द्वारा बजट सत्र में तीन करोड़ महिलाओं को लखपति बनाने हेतु लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

Advertisement

जनपद में 11331 समूहों का गठन किया गया है। जनपद में गत वर्ष जहाँ 5696 महिलायें लखपति बनी थी, यह संख्या आज बढकर अब 30148 हो गयी है। जनपद में विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान जब बैंक सखी चंदा देवी द्वारा प्रधानमंत्री से संवाद कार्य्रकम में बताया गया कि उनकी तरह और भी लखपति महिलायें हैं। वो सभी भी उनकी तरह समूह से जुड़कर आगे बढ़ रही हैं।

उस पर प्रधानमंत्री द्वारा संवाद के दौरान लखपति कार्यक्रम की सराहना कर संतोष व्यक्त किया गया था। जनपद में लखपति महिलाओं की संख्या बढ़ाने हेतु विभाग की तरफ से उन्हें सामुदायिक निवेश निधि, रिवोल्विंग फण्ड, बैंक क्रेडिट लिंकेज, प्रशिक्षण आदि कराया जा रहा है। वर्त्तमान वित्तीय वर्ष में अबतक 3421 समूहों को बैंक से ऋण वितरण कराया गया है।

साथ ही जिला प्रशासन द्वारा कई अभिनव पहल कर समूह की महिलाओं की आय बढ़ाने हेतु विभिन्न आजीविकापरक गतिविधियों से जोड़ा गया है जैसे- काशी प्रेरणा कैफे, काशी प्रेरणा कैटरिंग, मोती पालन, नमो ड्रोन सखी, फिनायल व हार्पिक बनाने का कार्य, ब्रिक्स इंटरलाकिंग, विद्युत चालित चाक, पेपर प्लेट मेकिंग मशीन, समूहों के उत्पादों को ऑनलाइन प्लेटफार्म उपलब्ध कराना, गाय के गोबर से प्राकृतिक पेण्ट, प्रमुख मंदिरों में समूहों को दुकान का आवन्टन आदि कार्य।

जनपद में समूह की महिलायें बैंक सखी, बीसी सखी, विद्युत सखी, स्टार्ट अप विलेज एंटरप्रेंयोरशिप प्रोग्राम, पावरलूम, टेक होम राशन, सार्वजनिक वितरण प्रणाली अन्तर्गत संचालित राशन की दुकान, ब्यूटी पार्लर, अचार मुरब्बा, टैडी बीयर, आटा चक्की आदि कार्य से भी जुड़कर अपनी आय को बढ़ा रही हैं. जनपद में लखपति दीदी की पंक्ति में शशि वर्मा, किरण यादव, आलम आरा, रिया शर्मा, संजू देवी, मधुबाला, मुन्नी, शीला, ममता व जाया पटेल आदि प्रमुख रूप से शामिल हैं।

क्या आपने यह पढ़ा… Swami Vishokananda Lecture: बीएचयू के वैदिक विज्ञान केंद्र में स्वामी विशोकानंद का हुआ व्याख्यान

Hindi banner 02
देश की आवाज की खबरें फेसबुक पर पाने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें