Varanasi DM Inspected Collectorate Premises

Varanasi DM Inspected Collectorate Premises: वाराणसी के जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रट परिसर का किया निरीक्षण

Varanasi DM Inspected Collectorate Premises: परिसर में कहीं भी जल जमाव और गंदगी नहीं दिखनी चाहिए- एस राजलिंगम

रिपोर्टः डॉ राम शंकर सिंह
वाराणसी, 12 फरवरीः
Varanasi DM Inspected Collectorate Premises: वाराणसी के जिलाधिकारी एस राजलिंगम ने शनिवार को कलेक्ट्रेट परिसर एवं कार्यालयों का निरीक्षण एडीएम सिटी, एडीएम प्रशासन, सीआरओ, एसीएम द्वितीय सहित अन्य अधिकारियों संग किया।

जिलाधिकारी कार्यालय के नीचे कोरोना काल में लगी टंकी निष्प्रयोज्य पाये जाने पर उसे हटवाने का निर्देश देते हुए बगल में लगे दो वाटर कूलर की अच्छी तरह सफाई कराने और विधिवत नया चबूतरा बनवा कर उस पर वाटर कूलर रखवाने और गिर कर आस-पास फैलने वाले पानी को पाइप के द्वारा चैम्बर में जोड़वाने का निर्देश नाजिर को दिया।

परिसर की सफाई व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए नियमित सफाई कराने और जगह-जगह पड़े हुए कूड़े को साफ‌ कराने का निर्देश देते हुए डीएम कार्यालय के पीछे बने यूरिनल/शौचालय को तोड़ कर स्मार्ट यूरिनल व शौचालय बनवाने हेतु निर्देशित किया। तब तक इस शौचालय को दिन में हर घंटे साफ कराने का भी निर्देश दिया।

Advertisement

कलेक्ट्रेट भवन के चारों ओर बारामदे में लगायी गयी मेज और कुर्सियां तत्काल हटवा कर खाली कराने का निर्देश दिया। इसके अलावा विभिन्न शेड और रास्तों के किनारे अनेकों गुमटियों को इधर-उधर रखा देख कर उनका सत्यापन कराने का निर्देश दिया। जिला पंचायत गेट के पास एक नया गेट लगवाने और गार्ड रूम बनवाने का निर्देश दिया गया।

कलेक्ट्रेट भवन के पास लोहे की पाइप व आयरन शीट रखा देख कर पूछा ये किसकी अनुमति से परिसर में लाया गया। आगे बढ़े तो नयी चौकी रखा देख कर होमगार्ड कम्पनी कमान्डर को बुलवाया जिनके द्वारा परिसर एवं गेट पर सुरक्षा की जाती है. उनसे सवाल किया कि परिसर में सुरक्षा की जिम्मेदारी आपकी है तो किसी के द्वारा कोई भी वस्तु परिसर के अन्दर बिना अनुमति कैसे लायी गयी। इसपर उनको चेतावनी देते हुए एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया।

ट्रेज़री से पंचायत भवन के सामने से होते हुए रोड तक जल निगम द्वारा सड़क खोद कर पाइप डालने के बाद मिट्टी भरके छोड़ दिये जाने पर नाराजगी जताई और कहा यदि सड़क नहीं बनायी गयी तो सम्बन्धित के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी जाये।
अभिलेखागार के निरीक्षण के दौरान आरईएस के द्वारा भवन रिपेयर किये जाने और फर्श को अधूरा छोड़ने पर सम्बन्धित अभियंता को तत्काल‌ पूरा कराने का निर्देश दिया।

अभिलेखागार में नकल रजिस्टर मंगा कर देखा. कुछ लोगों को नकल अगले ही दिन दे दिया गया दर्ज किया गया था. लेकिन कुछ मामले ऐसे दर्ज़ थे जिन्हें 15 दिन बाद या दिया ही नहीं गया था। इसके बारे में पूछा तो जवाब नहीं मिला तो सम्बन्धित को स्पष्टीकरण देने तथा एसीएम द्वितीय को जांच करने का निर्देश दिया। इसके अलावा रसीद छपवा कर अवेदन करने वालों को देने का भी निर्देश दिया।

महाप्रबंधक जल कल को निर्देशित करते हुए कहा कि परिसर की सभी जाम नाली चैम्बर सफाई तथा पेयजल तथा शौचालयों के आसपास के पानी के जल निकासी की उपयुक्त व्यवस्था कराने का निर्देश दिया। यहीं रिकार्ड रूम में विद्युत कनेक्शन न होने पर अंधेरा देखकर बैटरी आपरेटेड लाइट क्रय करने का निर्देश दिया।

एडीएम प्रशासन कार्यालय का निरीक्षण करने के दौरान उसे पेंट कराने व सुन्दर साफ-सुथरा कराने का निर्देश दिया।परिसर के गार्डेन में बने फौव्वारे की सफाई करा कर सुन्दर बनाने का निर्देश दिया। कलेक्ट्रेट भवन के पीछे स्थित कैंटीन को तोड़कर आरईएस से एक अच्छी कैंटीन के प्रस्ताव तैयार कराने हेतु निर्देशित किया।

इसके अलावा रजिस्ट्री कार्यालय के पास स्थित कैंटीनों को भी डिस्मेंटल कराने और एक अच्छी और साफ सुथरी कैंटीन जिसमें बैठने की अच्छी व्यवस्था हो बनवाने के निर्देश दिए। परिसर में अधिक संख्या में आवारा कुत्तों को जगह-जगह बैठा हुआ देखकर नगर निगम के द्वारा उनको पकड़वाने का निर्देश दिया।

क्या आपने यह पढ़ा… Train Route change: 4 ट्रेनें 28 मई तक आंशिक रूप से परिवर्तित मार्ग पर चलेंगी

Hindi banner 02
देश की आवाज की खबरें फेसबुक पर पाने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें