Banner Mamta Kuswaha

Alvida: अलविदा कह गए हमें छोड़ जाने वाले

“अलविदा”(Alvida)

अलविदा (Alvida) कह गए हमें छोड़ जाने वाले
नजरों के सामने मेरे आखिरी सलाम रह गया ।
सूरज मी डूब रहा अब छितीज में देखो
और मेरे हिस्से ठहरा हुआ सा शाप रह गया ।।

भूल गया दिल मेरा सारे जहाँ को
जहन में मेरे बस एक नाम रह गया।
जिन्दगी चलती रही अपने हिसाब से
और मेरे हिस्से ठहरा हुआ सा शाम रह गया ।।

बंद होने लगी खिड़कियाँ सारे मोहल्ले की
दरवाजे पर मेरे किसी का पैगाम रह गया ।
करवटें बदलती रात हमब माने को है
और मेरे हिस्से ठहरा हुआ सा शाम रह गया

Advertisement

आगोश में खो जाता है कोई मेरे
आखों में छलकता हुआ जाम रह गया ।
चले गये परिंदे सारे, घौंसलों में अपने
और मेरे हिस्से ठहरा हुआ सा शाम रह गया ।

આ પણ વાંચો:-PM Modi On Parliament Budget Session: संसद के बजट सत्र से पहले विपक्षियों पर बरसे प्रधानमंत्री, जानें क्या कहा

देश की आवाज की खबरें फेसबुक पर पाने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें