Yoga sciences Delhi

Yoga sciences: योग दिवस के अवसर पर दिल्ली की जनता को योग केंद्र की सौगात देंगे सीएम अरविंद केजरीवाल

Yoga sciences: सीएम अरविंद केजरीवाल के विज़न को साकार कर योग को बनाएंगे जनांदोलन- उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया

  • Yoga sciences: योग को बनाएंगे दिल्ली की जनता के जीवन शैली का हिस्सा- मनीष सिसोदिया
  • घर-घर तक योग और ध्यान के अभ्यास को पहुंचाकर करेंगे स्वस्थ और खुशहाल दिल्ली का निर्माण- मनीष सिसोदिया
  • दिल्ली फार्मास्यूटिकल साइंसेज रिसर्च यूनिवर्सिटी द्वारा शुरू किया जा रहा  1 साल का डिप्लोमा इन मेडिटेशन एंड योग साइंसेस प्रोग्राम, ट्रेनिंग लेने के बाद दिल्ली की जनता को योग सिखाएंगे ट्रेनर

नई दिल्ली, 16 जून: Yoga sciences: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 21 जून को विश्व योग दिवस के अवसर पर  दिल्ली फार्मास्यूटिकल साइंसेज रिसर्च यूनिवर्सिटी द्वारा शुरू किए जा रहे ‘डिप्लोमा इन मेडिटेशन एंड योग’ (Yoga sciences) कोर्स को लांच करेंगे। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की जा रही इस पहल के प्रगति की समीक्षा की। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का विज़न है कि योग को जनांदोलन बनाना है, इसी दिशा में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा में 2021 के बजट सत्र में घोषणा की थी कि दिल्ली के लोगों को योगा के माध्यम से एक बेहतर जीवन शैली जीना सिखाएंगे। डीपीएसआरयू में शुरू किया गया 1 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स इसी विज़न का हिस्सा है।

Whatsapp Join Banner Eng

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि योग (Yoga sciences) को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय द्वारा 1 साल का एक डिप्लोमा कोर्स ‘डिप्लोमा इन मेडिटेशन एंड योग साइंसेस’ शुरू किया जा रहा है।  किसी भी विषय से 10+2 करने वाले अभ्यर्थी इस कोर्स में दाखिला ले सकते है। इस डिप्लोमा कोर्स का मुख्य केंद्र दिल्ली फार्मास्युटिकल साइंसेज एंड रिसर्च यूनिवर्सिटी (DPSRU) में होगा तथा अन्य विस्तारित केंद्र पूरी दिल्ली में विभिन्न स्कूलों में होंगे। जहां सांध्यकालीन सत्र सप्ताह में 3 दिन प्रतिदिन 2 घंटे चलेगा। डिप्लोमा पूरा होने के बाद प्रशिक्षु एक प्रोफेशनल योगा ट्रेनर के तौर पर लोगों को योग और मेडिटेशन सीखा पाएंगे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में हजारों सालों से ध्यान और योग का अभ्यास किया जा रहा है। हमें गर्व महसूस होता है कि भारतीय ध्यान और योग परम्परा ने सैकड़ों वर्षों से दुनियाभर में लोगों को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहना सिखाया है। विदेशों में लोगों ने ध्यान और योग को अपने दैनिक जीवन का हिस्सा बनाया है।

Advertisement

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का विज़न साकार करते हुए हमें योग को जन आंदोलन बनाकर उसे घर-घर तक पहुंचाना है और योग व मेडिटेशन को जनता के दैनिक जीवन का हिस्सा बनना है। उन्होंने कहा कि कोर्स से ट्रेनिंग (Yoga sciences) लेने के बाद प्रशिक्षु पूरी दिल्ली को मेडिटेशन और योग सिखाएंगे और एक खुशहाल दिल्ली के निर्माण में अपना योगदान देंगे।

मुंबई में कोरोना के फर्जी टीके लगाकर लोगों से 5 लाख रूपये ऐंठ लिए

गौरतलब है की डीपीएसआरयू द्वारा शुरू किए जा रहे (Yoga sciences) इस डिप्लोमा प्रोग्राम द्वारा पहले बैच में 400 प्रशिक्षु ट्रेनिंग लेंगे जिन्हें शुरुआत में ऑनलाइन माध्यम से ट्रेनिंग दी जाएगी. लॉकडाउन खत्म होने के बाद इन प्रशिक्षुओं को सेंटर पर ट्रेंनिंग दिया जाएगा. विश्वविद्यालय में अगले सत्र में 600 और प्रशिक्षुयों को दाखिला दिया जाएगा।

Advertisement
Copyright © 2021 Desh Ki Aawaz. All rights reserved.